उत्तराखंड में जबसे प्रवासियों की घरवापसी हुई है उसके बाद से कोरोना संक्रमण के मामलों में बड़ा उछाल देखने को मिल रहा है और अब इसी का नतीजा है कि कुल संक्रमित मामलों की संख्या में राज्य ने शतक पूरा कर लिया है। देशभर से प्रवासी अब कोरोना को राज्य के उन पहाड़ी जिलों में भी पहुंचने लगा है, जहां अब तक नहीं पहुँच सका था। मंगलवार सुबह उत्तराखंड के चमोली जिले के गैरसैंण से एक कोरोना पॉजिटिव केस सामने आया था। यह चमोली जिले का पहला कोरोना पॉजिटिव मामला है। प्रशासन ने अब उसकी बहन, पत्नी और दोनों बच्चों को जीएमवीएन गैरसैंण में क्वारंटीन कर दिया है।

यह भी पढ़िये: चमोली में कोरोना संक्रमण का पहला मामला सामने आने से मचा हडकंप, इस जगह से है सम्बन्ध

इसके अलावा कुछ समय बाद ही पौड़ी जिले से तीन नए मामले सामने आ गए हैं। पौड़ी गढ़वाल के नैनीडांडा और बीरोंखाल निवासी दो और कोटद्वार के एक युवक में कोरोना संक्रमण पाया गया है। और अब एक और नया मामला उत्तरकाशी जिले से सामने आ रहा है जहाँ बडकोट के 35 वर्षीय युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गयी है। उत्तरकाशी जिले में यह कुल तीसरा मामला सामने आ गया है| इसके साथ ही राज्य में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 100 के पार पहुँच गयी है और अब कुल संख्या 101 हो गई है।

यह भी पढ़िये: बड़ी खबर: उत्तराखंड में मिले 3 और कोरोना पॉजिटिव, मरीजों की संख्या पहुंची 96

बताया गया है कि पौड़ी के 19 व 22 वर्ष के दोनों ही युवक गुरुग्राम हरियाणा से कोटद्वार पहुंचे थे। युवक को पीएचसी कलालघाटी में आइसोलेशन में रखा गया है। 17 मई को सैंपल जांच के लिए एम्स ऋषिकेश भेजा गया था, जिसकी रिपोर्ट आज पॉजिटिव आई है। बताया गया है कि कल गायब हुआ कोरोना पॉजिटिव युवक भी मिल गया है। उत्तरकाशी में सामने आने वाला युवक महाराष्ट्र से यहाँ आया है वो बीते दिन 17 मई को यहाँ पहुंचा था जहाँ से उसका सिंपले ऋषिकेश एम्स में जांच के लिए भेजा गया था।

यह भी पढ़िये: अभी अभी: पौड़ी जिले में सामने आया कोरोना संक्रमण का नया मामला, प्रवासियों से जुड़ा है ये मामला भी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here