Home उत्तराखंड उत्तराखंड: तमंचे पर डिस्को वाले विधायक चैम्पियन की आज बीजेपी में हो...

उत्तराखंड: तमंचे पर डिस्को वाले विधायक चैम्पियन की आज बीजेपी में हो सकती है वापसी

5
0

बात अभी बहुत पुरानी नहीं हुई है जब पिछले साल हरिद्वार के विधायक का तमंचा लेकर डांस करते हुए वीडियो वायरल हो गया था। इनका वीडियो जब वायरल हुआ था तो बीजेपी के भीतर तूफान उठ खड़ा हो गया था। पिस्तौल और बंदूकों के साथ डांस करने के दौरान विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन ने उत्तराखंड को लेकर एक आपत्तिजनक टिप्पणी भी की थी।  इस वीडियो के वायरल होने के बाद बीजेपी ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया था. लेकिन अब एक बार फिर से तमंचाधारी विधायक की बीजेपी में घरवापसी की तैयारियां तेज हो गयी हैं।

यह भी पढ़िये: उत्तराखंड में चोरी करने पहुंचे युवक, जब पैंसे नहीं मिले तो नाबालिग से किया दुष्कर्म

पिछले साल इस मामले के प्रकाश में आने के बाद विधायक चैंपियन को 6 साल के लिए बीजेपी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था। राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने तब संसद भवन के बाहर पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा के फैसले का ऐलान भी किया था और कहा था कि “उत्तराखंड के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी उत्तराखंड के लोगों और पार्टी को बर्दाश्त नहीं है।  इस बीच अब बीते दिनों भाजपा कोर ग्रुप की बैठक में चार विवादित विधायकों का मसला उठा है। जिस पर कुछ सदस्यों ने चिंता जाहिर की। उनका मत था विधायकों की गुस्ताखियों और हरकतों की वजह से पार्टी और सरकार की छवि प्रभावित हो रही है। विधायकों को कड़ा संदेश देने पर जोर दिया गया। बैठक के बाद प्रदेश अध्यक्ष ने चैंपियन और कर्णवाल को आज ही तलब कर उनका पक्ष सुन लिया।

यह भी पढ़िये: उत्तराखंड: मसूरी में अनियंत्रित होकर खाई में जा गिरी कार, पाँच लोग घायल

अनुशासनहीनता के कारण पार्टी से निष्कासित खानपुर विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन का पक्ष सुनने के बाद प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने फैसला सुरक्षित रख लिया है। वहीं झबरेड़ा से भाजपा विधायक देशराज कर्णवाल भी रविवार को प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष प्रस्तुत हुए। चैंपियन की घर वापसी की संभावनाएं जताई जा रही हैं। महिला प्रकरण में फंसे द्वारहाट विधायक महेश नेगी सोमवार को प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष हाजिर होंगे और अपना पक्ष रखेंगे। सरकार के जीरो टॉलरेंस पर सवाल उठाने वाले लोहाघाट विधायक पूरन फर्त्याल को भी सोमवार को बुलाया गया है।

यह भी पढ़िये: उत्तराखंड का एक और लाल जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में शहीद, अगले महीने आना था घर

उत्तराखंड बीजेपी अध्यक्ष बंशीधर भगत ने यह भी माना है कि पार्टी से निष्कासित हुए लोगों में प्रणव सिंह चैंपियन का आचरण पहले से अब सुधरा दिख रहा है। वहीं विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल का कहना है कि बीजेपी के फैसले के हिसाब से ही वो सदन में कुंवर चैंपियन की स्थिति तय करेंगे. हालांकि पार्टी के भीतर चैंपियन की वापसी के खिलाफ भी सुर उठना शुरू हो गए। लेकिन कुल मिलाकर अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन की वापसी तय है।

यह भी पढ़िये: उत्तराखंड: प्राइवेट अस्पताल भी कर सकेंगे अब कोरोना मरीजों का इलाज, जारी हुई गाइडलाइन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here