Home उत्तराखंड देवभूमि में जब एक साथ जली पांच चिताएं, माहौल देख हर किसी...

देवभूमि में जब एक साथ जली पांच चिताएं, माहौल देख हर किसी की आँखों में आ गए आंसू

35
0

चमोली जिले के कर्णप्रयाग-कुजासू मोटर मार्ग पर सोमवार रात आठ बजे एक कार कुजासूधार के पास अनियंत्रित होकर करीब 200 मीटर गहरी खाई में गिर गई थी। ये घटना इतनी दर्दनाक थी कि कार में में सिर्फ पांच लोग सवार थे और सभी की मौके पर ही मौत हो गई थी। ग्रामीणों से सूचना मिलते ही पोखरी थाने से पुलिस टीम मौके पर पहुंची और ग्रामीण की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया। रेस्क्यू टीम के खाई में उतरने तक कार सवार पांचों लोग दम तोड़ चुके थे।

मृतकों की पहचान सोहन सिंह (45) पुत्र रघुवीर सिंह, सुरेंद्र सिंह (72) पुत्र रतन सिंह, नंदन सिंह (75) पुत्र आलम सिंह, हीमा देवी (34) पत्नी कुलदीप सिंह, बिंदू देवी (35) पत्नी रमेश सिंह सभी ग्राम-कुजासू (पोखरी) के रूप में हुई है। कुजासू गांव के पूर्व प्रधान शिवराज सिंह राणा ने बताया कि कार मालिक सोहन सिंह स्वयं कार चला रहे थे। वे कर्णप्रयाग से अपराह्न डेढ़ बजे कुजासू गांव के लिए निकले थे। लेकिन देर शाम तक भी जब घर नहीं पहुंचे, तो ग्रामीण उनकी तलाश में निकले।

दुर्घटना में पांच लोगों की मौत होने से कुजासू (पोखरी) गांव में मातम छाया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कर्णप्रयाग में गमगीन माहौल में पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिए गए थे। मंगलवार को कुजासू सहित आसपास के गांवों से आए लोगों ने मृतकों को नम आंखों से विदाई दी। सोमवार देर रात हुए दर्दनाक हादसे में मारे गए पांचों लोगों का मंगलवार को अंतिम संस्कार किया गया सभी का पैतृक घाट पर अलकनंदा नदी के किनारे कर अंतिम संस्कार किया गया।

READ  ग्राफिक एरा की छात्रा मैत्री रावत का कमाल...गूगल में चयन...सालाना सैलरी 54.80


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here