Home उत्तराखंड उत्तराखण्ड: प्रवासी एक महीने पहले लौटा था दिल्ली से गाँव, अब पेड़...

उत्तराखण्ड: प्रवासी एक महीने पहले लौटा था दिल्ली से गाँव, अब पेड़ पर लटकी मिली लांश

4
0

एक प्रवासी युवक ने चीड़ के पेड़ में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। वह एक माह पूर्व दिल्ली से घर लौटा था। घटना के बाद परिजन सदमे में हैं। पुलिस घटना की सभी कोणों से जांच कर रही है। कपकोट तहसील के बैड़ा-मझेड़ा गांव निवासी 32 वर्षीय भरत कुमार पुत्र गोविद राम करीब एक माह पूर्व दिल्ली से घर लौटा था। वह दिल्ली में प्राइवेट नौकरी करता था। 14 दिन क्वारंटाइन में भी रहा, लेकिन सोमवार की सुबह उसका शव गांव के जंगल में एक चीड़ के पेड़ पर फंदे पर लटका मिला।

यह भी पढ़ें: टिहरी जिले में दर्दनाक सड़क हादसा, शादी की गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त, चार लोगों की हुई मौत

कपकोट के कोतवाल केएस बिष्ट ने कहा कि शव को कब्जे में लिया गया है। उसका पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा गया है। उन्होंने कहा कि घटना की सभी कोणों से जांच की जा रही है। अभी तक किसी भी प्रकार की तहरीर नहीं आई है। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के असल कारणों का पता चल सकेगा। वहीं, गत दिवस कठपुड़ियाछीना के रैखोली गांव में प्रवासी भगवान सिंह रावत ने भी फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली थी। जिसके बाद जिला प्रशासन की भी नींद उड़ गई है। घटना की तह तक जाने के लिए प्रशासन को भी अहम कदम उठाने होंगे।

यह भी पढ़िये: देवभूमि शर्मसार: सगे ताऊ ने किया दुष्कर्म, माता-पिता की मौत के बाद रहती थी साथ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here