Home Uttarakhand सीएम रावत का बड़ा बयान, उत्तराखंड का माहौल बिगाड़ रहे जामिया और...

सीएम रावत का बड़ा बयान, उत्तराखंड का माहौल बिगाड़ रहे जामिया और कश्मीर से आये असामाजिक तत्व

0
0

देशभर में इन दिनों एक अलग तरह का माहौल बना हुआ है और ये सब हुआ है सीएए के कारण, जिसमें पूरा देश दो खेमों में बंटा नजर आ रहा है जहाँ कुछ लोग इसके सप्पोर्ट में हैं तो कुछ इसके विरोध में। सीएए पर विरोध प्रदर्शन को लेकर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सख्त रुख दिखाया है। उन्होंने कहा कि हमें सूचना मिली है कि प्रदेश में जामिया मिलिया विवि और कश्मीर से कुछ लोग आए हैं, जो सीएए पर प्रदेश के लोगों को भड़काने का काम कर रहे हैं। ऐसे लोग उत्तराखंड में घुसने का प्रयास न करें।

मुख्यमंत्री ने स्पष्ट शब्दों ने कहा कि ऐसी ताकतों के मंसूबों को सफल नहीं होने दिया जाएगा। सरकार इन्हें चिह्नीत करके सख्ती से निपटेगी। मुख्यमंत्री ने यह बयान हल्द्वानी में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ चल रहे धरने के संदर्भ में दिया है। सेवायोजन विभाग की ओर से आयोजित रोजगार मेले में मीडिया से रूबरू होते हुए सीएम रावत ने कहा कि कुछ लोगों से प्रदेश की शांति बर्दाश्त नहीं हो रही है। इसलिए यहां हिंसा भड़काने के लिए बाहरी लोगों को बुलाया जा रहा है। उनका मकसद है कि प्रदेश में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हो रहे आंदोलन को भड़काया जाए, ताकि यहां हिंसा व उपद्रव की घटनाओं को अंजाम दिया जा सके।

मुख्यमंत्री रावत के इस बयान के बाद प्रदेश में जम्मू-कश्मीर के छात्रों के लिए काम कर रही जम्मू एंड कश्मीर स्टूडेंट एसोसिएशन भी सक्रिय हो गई है। एसोसिएशन के राष्ट्रीय प्रवक्ता नासिर खुहामी ने कहा कि कश्मीर से आए लोगों पर ऐसे बेबुनियाद आरोप लगाना उचित नहीं है। नासिर ने कहा कि छात्र संविधान के दायरे में रह कर ही सीएए का विरोध कर रहे हैं। ऐसे बयान जारी करने से यहां रह रहे कश्मीरी छात्र असामाजिक तत्वों के निशाने पर आ जाएंगे, लेकिन अगर सच में कोई घुसपैठिया उत्तराखंड का माहौल खराब कर रहा है तो उसे खोजने में एसोसिएशन भी सरकार की मदद करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here