Home विदेश तीसरे विश्व युद्ध की आहट, रूस-यूक्रेन में चरम पर तनाव, तुरंत यूक्रेन...

तीसरे विश्व युद्ध की आहट, रूस-यूक्रेन में चरम पर तनाव, तुरंत यूक्रेन छोड़ दें अमेरिकी नागरिक: अमेरिका

98
0

रूस और नाटो सेनाओं के बीच बढ़ते तनाव ने एक बार फिर तीसरे विश्व युद्ध की आहट को तेज कर दिया। हालात इस कदर मुश्किल हो चुके हैं कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपने देश के नागरिकों को तुरंत यूक्रेन छोड़ने के लिए कह दिया है। एक न्यूज चैनल  से बात करते हुए बाइडेन ने कहा कि अमेरिका और रूस की सेना के बीच कभी भी सीधी लड़ाई शुरू हो सकती है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि दुनिया की सबसे बड़ी सेनाओं में से एक के साथ हम तकरार की हालत में हैं। यह बहुत ही गंभीर स्थिति है और जल्द ही मामला और ज्यादा बिगड़ने की आशंकाएं बढ़ गई हैं।

उत्तराखंड: मातम में बदली बेटे के जन्मदिन की खुशियां, पहाड़ में पिता समेत दो की मौत

अमेरिकी नागरिकों को शीघ्रत से यूक्रेन से बाहर निकलना चाहिए। वहीं यूक्रेन में सेना भेजने के सवाल पर अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘वहां पर सेना भेजने का अर्थ है कि विश्व युद्ध की शुरूआत। न्यूज एजेंसी AFP के मुताबिक, बाइडेन के कहा कि अमेरिकी नागरिक जल्द से जल्द यूक्रेन अब छोड़ दें। यूक्रेन में रूसी आक्रमण के खतरे को देखते हुए राष्ट्रपति बाइडेन ने यह अपील की है। गौरतलब है कि अमेरिका चेतावनी दे चुका है कि यूक्रेन पर हमले की सूरत में रूस को भारी नुकसान उठाना होगा, लेकिन इस चेतावनी का खास फायदा नहीं हुआ।

यह भी पढ़ें: उत्तराखण्ड पुलिस के लिए गौरवशाली पल: दो जवानों को प्रधानमंत्री करेंगे सम्मानित, मिलेगा जीवन रक्षा पदक

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने गुरुवार को कहा कि यूक्रेन संकट पिछले कुछ दशकों में यूरोप के ‘सर्वाधिक खतरनाक क्षण’ में प्रवेश कर गया है। ब्रिटेन की शीर्ष राजनयिक ने अपने रूसी समकक्ष के साथ बातचीत भी की, जिन्होंने कहा कि क्रेमलिन (रूसी राष्ट्रपति कार्यालय) पश्चिमी देशों के ‘लेक्चर’ नहीं सुनेगा। यूक्रेन के उत्तर में स्थित बेलारूस में रूसी सैनिकों की सैन्य गतिविधियां देखने को मिली हैं। जबकि यूक्रेन की सीमा के पास रूस के एक लाख से अधिक सैनिकों का जमावड़ा है। गुरुवार को ब्रिटिश रॉयल एयर फोर्स का एक लड़ाकू विमान 350 सैनिकों को लेकर पोलैंड में उतरा। बता दें कि पशिमी देश रूस पर दबाव बनाने की लगातार कोशिश कर रहे हैं, लेकिन मॉस्को के रुख में कोई बदलाव देखने को अब तक नहीं मिला है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here