Home अजब - गजब बंगाल:- शिक्षा भर्ती घोटाले में आरोपी अर्पिता मुखर्जी के घर छापेमारी...

बंगाल:- शिक्षा भर्ती घोटाले में आरोपी अर्पिता मुखर्जी के घर छापेमारी में अब तक 50 करोड़ से ज्यादा कैश बरामद

24
0

बंगाल के शिक्षा भर्ती घोटाले में आरोपी अर्पिता मुखर्जी के एक और ठिकाने पर ईडी ने छापा मारा है। फिलहाल इससे क्या बरामद हुआ है यह साफ नहीं है। इससे पहले  जो छापेमारी हुई, उसमें 50 करोड़ से ज्यादा रुपये बरामद हुए। कई किलो सोना भी मिला था। अर्पिता मुखर्जी बंगाल के शिक्षा मंत्री रहे पार्थ चटर्जी की करीबी है।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अर्पिता मुखर्जी (arpita Mukherjee) के एक और फ्लैट पर छापा मारा है। ईडी इससे पहले अर्पिता के तीन घरों पर छापे मार चुकी हैं, जिनमें से करीब 50 करोड़ रुपये मिला था। इसके अलावा कई किलो सोना भी वहां बरामद हुआ था।

अब ईडी को अर्पिता मुखर्जी के एक और फ्लैट का पता चला है। यह फ्लैट कोलकाता एयरपोर्ट के पास चिनार पार्क में है। यहां रॉयल रेजिडेंट बिल्डिंग के चौथे फ्लोर पर 404 नंबर फ्लैट अर्पिता मुखर्जी के नाम पर है।

शिक्षक भर्ती घोटाले में गिरफ्तार हुए हैं पार्थ और अर्पिता

अर्पिता मुखर्जी बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी हैं। शिक्षा भर्ती घोटाले में जब ईडी ने छापेमारी की तो अर्पिता मुखर्जी भी रडार पर आईं. उनके ठिकानों पर भी छापे पड़े । अर्पिता मुखर्जी के घर से ईडी को बड़ी संख्या में कैश मिला था । ईडी के मुताबिक, पूछताछ में अर्पिता ने कबूला है कि यह पैसा मंत्री पार्थ चटर्जी का है।

 

पार्थ चटर्जी अब मंत्री नहीं

पार्थ चटर्जी पर आखिरकार आज ममता सरकार ने भी एक्शन लिया है। उनको मंत्रीपद से हटा दिया गया है। वह फिलहाल ममता सरकार में उद्योग मंत्री थे। अन्य विभागों की जिम्मेदारियों से भी उनको मुक्त किया गया है। पार्थ पर एक्शन के बाद ममता बनर्जी का बयान भी आया। इसमें ममता ने कहा कि TMC सख्त पार्टी है, इसलिए पार्थ पर एक्शन हुआ।

राज्य सरकार की उपलब्धियों/योजनाओं/डेंगू से बचाव" वीडियो विज्ञापन



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here