Home अल्मोड़ा पहाड़ में गर्भवती महिला को एक जिले से दूसरे जिले रेफर करते...

पहाड़ में गर्भवती महिला को एक जिले से दूसरे जिले रेफर करते रहे, एम्बुलेंस में ही होगई महिला की मौत

298
0

राज्य के पहाड़ी क्षेत्रों की बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था आज किसी से भी छिपी नहीं है। पहाड़ों में अस्पताल मात्र रेफर सेंटर बने हुए हैं। बागेश्वर जिले से रेफर एक गर्भवती महिला की अल्मोड़ा अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई। तबियत बिगड़ने पर जिला अस्पताल बागेश्वर से उसे रेफर किया गया था। गर्भवती की मौत के बाद से ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल रहा। बागेश्वर जिले के बनेग गांव निवासी गर्भवती गीता देवी (25) पति राजेंद्र बृहस्पतिवार को स्वास्थ्य परीक्षण के लिए जिला अस्पताल बागेश्वर दिखाने आई थी। महिला का सुबह से स्वास्थ्य खराब था, जांच में ब्लड प्रेशर अधिक होने पर उसे हायर सेंटर रेफर किया गया था। परिजन उसे 108 के माध्यम से महिला अस्पताल अल्मोड़ा लाए। लेकिन रास्ते में एनटीडी के समीप महिला की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें: उत्तराखण्ड: फौजी जवान की ड्यूटी के दौरान आकस्मिक निधन, पहाड़ में दौड़ी शोक की लहर

महिला अस्पताल अल्मोड़ा के सीएमएस डॉ. दीपक गर्ब्याल ने बताया कि महिला के अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो चुकी थी। परिजनों ने बताया कि महिला की प्रसव की तिथि 14 अगस्त थी, सुबह स्वास्थ्य परीक्षण के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कांडा लेकर गए थे। अस्पताल में डॉक्टर नहीं मिलने पर वह जिला अस्पताल बागेश्वर गए। वहां से रेफर करने के बाद उसे यहां लाया गया। मौत की खबर सुनते ही परिजनों में कोहराम मच गया। बताया जा रहा है कि महिला की शादी तीन साल पहले हुई थी। वह पहली बार गर्भवती हुई थी। अस्पताल पहुंचने पर महिला की सास कमला देवी को उसकी मौत के बारे में जानकारी नहीं थी। वह बार-बार बहु की तबियत पूछती रही।

यह भी पढ़ें: उत्तराखण्ड से बुरी खबर: एक और कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति की मौत, क्षेत्र में हड़कंप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here