Home उत्तराखंड उत्तराखण्ड: लॉकडाउन में घर आये थे दिव्यांश और लतिका, दर्दनाक हादसे में...

उत्तराखण्ड: लॉकडाउन में घर आये थे दिव्यांश और लतिका, दर्दनाक हादसे में दफ़न हो गयी दो मासूम जिंदगियां

903
0

दिव्यांश और लतिका ने अभी जिन्दगी में देखा ही क्या था जो इतनी छोटी उम्र में सबको अलविदा कह कर चले गये हाल ही मे पिथौरागढ़ जिले की बंगापानी तहसील के टांगा गांव में रविवार रात को जो कहर बरपा उससे गांव पूरी तरह बर्बाद और तबाह हो चुका है। अब शायद ही कभी टांगा गांव फिर कभी आबाद हो सकेगा। अभी तक इस हादसे में 8 लोगों के शव निकाले जा चुके है। लापता लोगों को खोजने में जुटे राहत-बचाव दल को एक फोटो मिला है,  जिसने सबकी आंखें नम कर दी।

यह भी पढ़ें: कोरोना का कहर: मां की अर्थी को कंधा देने वाले 5 बेटों की मौत, 15 दिन में तबाह हो गया परिवार

दिव्यांश और लतिका के पिता दोनों को मदकोट में पढ़ाने के लिए ले गए थे। वहीं कमरा लेकर रहते थे, लेकिन जब कोरोना का कहर बढ़ने लगा, तो वो दोनों को गांव ले गए। स्कूल अब भी कोरोना के कारण बंद हैं। बंगापानी तहसील के टांगा गांव में जो 11 लोग लापता हो गए थे। उनमें गणेश सिंह के दो बच्चे दिव्यांश और लतिका भी शामिल हैं। इनको खोजने के लिए लगातार खोज अभियान चलाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: कोरोना अपडेट: उत्तराखंड में आज फिर मिले 200 के पार कोरोना संक्रमित मरीज, 4849 पहुंचा आंकड़ा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here