Home उत्तराखंड अगले दस साल में उत्तराखंड को बनाएंगे देश का नंबर-1 राज्य: मुख्यमंत्री...

अगले दस साल में उत्तराखंड को बनाएंगे देश का नंबर-1 राज्य: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

62
0

देवभूमि उत्तराखंड में अगले साल की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए अभी से सरगर्मियां शुरू हो गयी हैं। हर सियासी दल इन दिनों जनता के बीच पहुंचकर अपनी बात रख रहा है। इसी कड़ी में उत्तराखंड भाजपा इन दिनों जन आशीर्वाद यात्रा संचालित कर रही है। जन आशीर्वाद रैली में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि उत्तराखंड को अगले 10 साल में देश का नंबर राज्य बनाया जाएगा। भाजपा सरकार उत्तराखंड को आदर्श राज्य बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर भी तंज कसा। सीएम धामी ने कहा कि जो रोजगार गारंटी कार्ड की बात कर रहे थे, वो खुद बेरोजगार हो गए हैं।

केजरीवाल ने खेला बड़ा दांव: उत्तराखंड में छह महीने में एक लाख नौकरी और हर महीने पांच हजार भत्ता

मसूरी विधानसभा क्षेत्र में भाजपा की जन आशीर्वाद रैली में भारी भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, राज्यसभा सदस्य नरेश बंसल और काबीना मंत्री गणेश जोशी ने पेयजल, सड़क समेत मसूरी विस क्षेत्र में विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास किया। सीएम धामी ने कहा, हम शुरू से प्रयास कर रहे हैं कि सिर्फ घोषणा नहीं करेंगे, उन्हें धरातल पर भी उतारेंगे। पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों को आर्थिक सहायता दी। 24000 नई भर्तियों के क्रम में भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी है। स्वरोजगार पर भी फोकस है। इसके लिए सभी जिलों में कैम्प लगाकर कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

चारधाम यात्रा 2021: पहले दिन 1324 श्रधालुओं ने किए और बने 19 हजार से ज्यादा ई-पास

मुख्यमंत्री धामी द्वारा कहा गया, कि राज्य सरकार ने लगभग 24 हजार युवाओं को रोजगार देने का संकल्प लिया है। जिसके अंतर्गत दो माह के अंदर बारह 12 हजार से अधिक युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराये जाने की योजना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी राष्ट्र के विकास में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। युवाओं को प्रदेश में रोजगार एवं स्वरोजगार के पर्याप्त अवसर मिले इसके लिए राज्य सरकार प्रयासरत है। राज्य में रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई है। ये भर्ती प्रक्रिया जल्द पूर्ण की जाएगी। सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास सरकार का मूलमंत्र है। जन समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए अधिकारियों को प्रत्येक कार्यदिवस में प्रातः 10 से 12 बजे तक जन समस्याओं को सुनकर उनका समाधान करने के निर्देश दिए गए हैं।

उत्तराखंड: कक्षा एक से पांचवीं के लिए 21 सितंबर से खुलेंगे स्कूल… जानिये गाइडलाइन



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here