Home उत्तराखंड सात समंदर पार से देवभूमि पहुंचा प्रेमी जोड़ा… गंगोत्री धाम में...

सात समंदर पार से देवभूमि पहुंचा प्रेमी जोड़ा… गंगोत्री धाम में हिंदू रीति रिवाज से किया विवाह

26
0

गंगोत्री धाम में एक विदेशी जोड़ा हिंदू रीति रिवाज से सात फेरे लेकर शादी के बंधन में बंधा। पवित्र धाम में स्थित भगीरथ शिला पर तीर्थपुरोहितों ने विधिवत पूजा अर्चना के साथ विवाह संपन्न कराया। गंगोत्री में विदेशी जोड़े का विवाह देश-विदेश के श्रद्धालुओं के बीच आकर्षण का केंद्र बना रहा। चारधाम यात्रा के बीच जिले के गंगोत्री व यमुनोत्री धाम में बड़ी संख्या में देश-विदेश के श्रद्धालु मां गंगा व यमुना के दर्शन को पहुंच रहे हैं। करोड़ों हिंदुओं की आस्था के प्रतीक गंगोत्री धाम में मंगलवार को पनामा कंट्री से एक विदेशी जोड़ा भी हिंदू रीति रिवाज से सात फेरे लेने यहां पहुंचा।

इस दौरान गंगोत्री धाम आए तीर्थ यात्रियों ने भी विदेशी जोड़े के सात फेरे और विवाह की अन्य रस्मों को देखा। विदेशी नव विवाहित दंपती ने बताया कि उनकी हिंदू धर्म में गहरी आस्था है। सोमवार को विदेशी जोड़ा अपने साथ विवाह के रीति रिवाज व रस्मों से जुड़ा सामान लेकर गंगोत्री धाम में पहुंच गया था। फिर मंगलवार को इस जोड़े में दूल्हा जोंस गोंजालेन और दुल्हन फिलिजाबेथ ने हिंदू रस्मों रिवाज के तहत विवाह किया। गंगोत्री धाम स्थित भगीरथ शिला पर तीर्थ पुरोहित आचार्य विपिन सेमवाल व गंगा पुरोहित सभा के अध्यक्ष पवन सेमवाल ने विधिवत पूजा अर्चना के साथ विवाह को संपन्न करवाया। गंगोत्री में विदेशी जोड़े का विवाह देश-विदेश के तीर्थ यात्रियों के बीच आकर्षण का केंद्र रहा।

इस दौरान दूल्हा-दुल्हन के दोस्त भी मौजूद रहे। जोस गोंजालेन ने फिलिजाबेथ की मांग में सिंदूर भरी। जोस और फिलिजाबेथ ने सात फेरे लेकर एक-दूसरे को अपना जीवन साथी बनाया। इस दौरान नव विवाहित विदेशी जोड़ा गंगोत्री धाम की खूबसूरती के कायल नजर आए। दुल्हन फिलिजाबेथ ने कहा कि देवभूमि के पवित्र धाम में हिंदू रीति रिवाज से सात फेरे लेकर हम धन्य हो गए। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति ने उन्हें बचपन से ही आकर्षित किया है। इच्छा थी कि शादी करेंगे तो हिंदू रीति रिवाज से और आज गंगोत्री धाम में आकर वो सपना पूरा हुआ है।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here