Home उत्तराखंड उत्तराखंड में रात्रि कर्फ्यू पर इस दिन होगा फैसला, सभी जिलाधिकारियों के...

उत्तराखंड में रात्रि कर्फ्यू पर इस दिन होगा फैसला, सभी जिलाधिकारियों के साथ होगी CM की बात

194
0

उत्तराखंड में कोरोना के हर दिन बढ़ते मामलों ने सरकार के साथ ही आम आदमी की भी बेचैनी बढ़ा दी है। इसे देखते हुए राज्य में कुछ दिनों के लिए रात्रि कर्फ्यू अथवा वीकेंड पर एक या दो दिन की साप्ताहिक बंदी के विकल्पों पर विचार चल रहा है। इस संबंध में फैसला मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की शनिवार को जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये होने वाली कोरोना की समीक्षा बैठक के बाद लिया जाएगा। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि कोविड को लेकर राज्यवासियों के हित में जो भी उचित होगा, वहीं निर्णय परिस्थितियों के हिसाब से लिया जाएगा। उन्होंने अफसरों को लोगों के ट्रेक और ट्रेसिंग पर खास फोकस के भी निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखण्ड: पेंशन ले जा रहे पेंशनरों की जीप गहरी खाई में गिरी, 5 की मौत और 6 लोग घायल

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने दोहराया कि यह संक्रमण बहुत ही डायनामिक है। राज्य सरकार नियमित तौर पर इसकी समीक्षा भी कर रही है और उसी के हिसाब से कदम भी बढ़ा रहे हैं। यह पूछे जाने पर कई राज्यों ने नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया है, कुछ जगह लॉकडाउन की भी चर्चा है, उत्तराखंड क्या कदम उठाने जा रहा है ? सीएम ने कहा कि जो भी फैसला लिया जाएगा, उसमें सबसे पहले जनता का हित देखा जाएगा। उन्होंने कहा कि कई राज्यों में इस समय कोविड का फेज टू शुरू हो गया है लिहाजा, सभी को सतर्क रहने की जरूरत है। त्योहारी सीजन के दौरान राज्य में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी आई है। देहरादून, नैनीताल, हरिद्वार, चमोली, पिथौरागढ़ समेत लगभग सभी जिलों में पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है।

READ  उत्तराखंड: खत्म हुआ इंतजार, आज से वाहनों के लिए खोल दिया जाएगा प्रदेश का सबसे लंबा फ्लाई ओवर

यह भी पढ़ें: ‘लव जिहाद’ के शोर के बीच उत्तराखंड की स्कीम, दूसरे धर्म में शादी करने पर मिलेंगे 50 हजार

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर अब सरकार सख्त कदम उठाने की तैयारी में है। इस कड़ी में राज्यभर में कुछ दिन रात में कफ्र्यू रखने के अलावा सप्ताह के आखिरी दो दिनों या फिर एक दिन साप्ताहिक बंदी का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने के मद्देनजर गहनता से विचार भी किया जा रहा है। सचिव आपदा प्रबंधन एसए मुरुगेशन के अनुसार मुख्यमंत्री की जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कॉफ्रेंसिंग के बाद ही निर्णय लिया जाएगा कि आगे क्या कदम उठाए जाएं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: देर रात बस से भिड़ी बोलेरो गाड़ी, फुटबालर और उसके दोस्त की मौके पर ही मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here