देशभर में लॉकडाउन के कारण जब सभी लोग अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं तो वहीँ दूसरी तरफ इस समय लगातार ऐसे मामले सामने आ रहे हैं जब जंगली जानवरों की घुमक्कड़ी आबादी क्षेत्रों में बढ़ती जा रही है। ऐसा ही एक नया मामला सामने आया है जब अल्मोड़ा नगर से लगे खत्याड़ी इलाके में बुधवार की सुबह एक तेंदुआ घुस आया। गाँव के किसी व्यक्ति ने तेंदुए को एक खंडहर में घुसते देखा। और फिर इसकी जानकारी वन विभाग को दी गयी।

यह भी पढ़िये: उत्तराखण्ड में नाबालिग से गैंगरेप, सुबह बेहोशी की हालत में छोड़ गए घर के बाहर

वन विभाग की टीम जाल, पिंजरा और ट्रैंकुलाइज गन लेकर मौके पर पहुंची है और गुलदार को पकड़ने का प्रयास शुरू कर दिया गया। फिलहाल मौके पर भारी भीड़ दिख रही है। पुलिस के जवान भी मौके पर हैं। खत्याड़ी के पूर्व प्रधान हरीश सिंह कनवाल ने बताया कि सुबह नौ बजे गुलदार उनके पुराने मकान के गोठ में घुस गया। भीड़भाड़ देखकर तेंदुआ घबराकर झाड़ी जा छिपा और जब बाहर आया तो फिर से उसी खंडहर में घुस गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद डीएफओ केएस रावत भी मौके पर पहुंच गए।

यह भी पढ़िये: बड़ी खबर: सोशल मीडिया पर फ़ैली मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की मौत की खबर, मुकदमा हुआ दर्ज

वन विभाग की टीम ने अब खंडहर के एक हिस्से में जाल डाल दिया और पीछे की तरफ के दरवाजे को चादर आदि से बंद कर रखा है। इससे पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल फ़ैल गया है। झ़ाड़ियों से निकलने के दौरान सुंदर सिंह नाम का एक व्यक्ति उसकी चपेट में आते आते बचा और जमीन पर गिर जाने से उसका पांव भी चोटिल हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here