देशभर में कोरोना संक्रमण के पैर पसार देने के बाद लॉकडाउन की घोषणा कर दी गयी थी जिसके बाद सभी काम-धंधे बंद हो गए थे। 25 मार्च से चल रहा लॉकडाउन अब 31 मई तक चालू है लेकिन इस बीच 4 मई से कुछ कामों को सरकार से बड़ी राहत मिल गयी थी। एक तरफ तो काम बंद होने की वजह से लोग परेशान थे तो वहीँ सरकार को भी कोई राजस्व नहीं मिल पा रहा था जिसके बाद यह निर्णय लिया गया था। उत्तराखंड में भी 4 मई से अनेक चीजों में छूट दे दी गयी थी इन्हीं में से एक थी शराब की दुकानों को खोलने की।

यह भी पढ़िये: कोरोना का कोहराम: उत्तराखंड में अब कुल 93 मामले, तो रेड जोन में जा सकते हैं ये दो जिले

शुरू के 2 दिन तो राज्य के कई हिस्सों में शराब की दुकानों के बाहर लम्बी लाइन लगी रही और अब उसी का नतीजा है कि सरकार को उससे बड़ा राजस्व प्राप्त हो रहा है। इसी कड़ी में आज हम आपको यहाँ बता रहा हैं उत्तरकाशी जिले के बारे में जहाँ पिछले 11 दिनों के आंकड़े बता रहे हैं कि जनपद में 2.50 करोड़ की शराब की बिक्री हुई है, जिससे सरकार को करीब 1 करोड़ का राजस्व प्राप्त हुआ है। उत्तरकाशी जिले में 5 मई से शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति दी गयी थी जिसके बाद जिले की 9 शराब की दुकानों ने काम करना शुरू कर दिया था।

यह भी पढ़िये: उत्तराखंड के लिए बड़ा खतरा: ट्रक में छुपकर पहुंचे 33 प्रवासी, मुकदमा दर्ज ट्रक सीज!

वर्तमान में जनपद में आबकारी के अधीन 12 अंग्रेजी शराब की दुकानें संचालित हैं। जिला आबकारी अधिकारी हरीशचंद्र ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए आवंटित 33.77 करोड़ से अधिक का राजस्व प्राप्त होगा। पिछले 11 दिनों के अंतराल में एक करोड़ राजस्व सरकार को प्राप्त हुआ है। जनपद में अभी 12 दुकानों का संचालन हो रहा हैं लेकिन फिलहाल 9 दुकानें ही चालू हैं। बड़कोट में दुकान का संचालन शुरू नहीं हो पाया है।

यह भी पढ़िये: दुखद: लॉकडाउन के बाद भी कम नहीं हो रहे दुष्कर्म के मामले, देहरादून में 13 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here