Home उत्तराखंड उत्तराखंड: अब भारत भी चीन सीमा पर बसाएगा गाँव… हर हरकत की...

उत्तराखंड: अब भारत भी चीन सीमा पर बसाएगा गाँव… हर हरकत की मिलेगी जानकारी

45
0

अरुणाचल प्रदेश सेक्टर में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास चीन द्वारा बनाया गया गांव, जिसका उल्लेख हाल ही में पेंटागन की एक रिपोर्ट में किया गया है, उस इलाके में है जिस पर चीन का नियंत्रण है। यह बात यहां सुरक्षा प्रतिष्ठान के सूत्रों ने मंगलवार को कही। सैन्य और सुरक्षा घटनाक्रम पर अमेरिकी विभाग की वार्षिक रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश सेक्टर में एक विवादित क्षेत्र में एक बड़ा गांव बनाया है। एक सूत्र ने कहा कि ऊपरी सुबनसिरी जिले में विवादित सीमा के साथ लगता गांव चीन के नियंत्रण वाले क्षेत्र में है। उसने सालों से उस क्षेत्र में सेना की एक चौकी बनाई हुई है और चीनियों द्वारा किए गए विभिन्न तरह के निर्माण कार्य थोड़े समय में नहीं हुए हैं।

अब इसी कड़ी में भारत ने भी बॉर्डर पर अपनी तैयारी मजबूत करने का फैंसला किया है। LAC के नज़दीक सैकड़ो की संख्या में गांव हैं जहां कोई नहीं रहता है। इन गांवों को जीवंत बनाने के लिए केंद्र सरकार ने एक मेगा प्लान तैयार किया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भारत चीन सीमा के नज़दीक ऐसे 500 से 600 गांव हैं जहां कोई नही रहता है। इन गांवो में साल में सिर्फ एक बार अपने कुल देवता की पूजा करने के लिए यहाँ के ग्रामवासी जाते हैं। पर अब ये गांव जी उठेंगे। केंद्र सरकार इन गांवों को वाईब्रेंट विलेज बनाने के लिए कई राउंड की बैठक कर चुकी है। साथ ही इस साल के बजट में भी इन गांव को वाईब्रेंट विलेज बनाने के लिए भारी भरकम बजट की घोषणा भी की जा चुकी है। गांवों में सारी सुविधाएं जो शहर के घरों में रहती हैं। साथ ही यहां रहने वालों को यहीं आसपास नौकरियां दी जाएंगी, जिससे इनका पलायन न हो।

जानकारी के मुताबिक चीन सीमा से लगने वाले करीब 100 गांवों को वाईब्रेंट विलेज बनाने का मेगा प्लान है। यही नही उत्तराखंड के बॉर्डर के नज़दीक 115 से ज्यादा विलेज को आधुनिक गांव बनाना है। उत्तराखंड में तो कुछ जगहों पर जैसे, जाडुंग, नेलांग और मलारी में वाईब्रेंट विलेज़ के प्रोजेक्ट के तहत शुरुआती रिपोर्ट भी तैयार कर ली गई है। सरकार के सूत्रों ने बताया है कि भारत चीन सीमा के नज़दीक हिमाचल  के करीब 80 गांवो को वाईब्रेंट विलेज़ के तहत डेवेलप करना है। इसके साथ ही सिक्किम बॉर्डर के 50 तो अरुणाचल बॉर्डर से नज़दीक 80 से 120 गांव जो घोस्ट विलेज बन चुके थे उनको विकसित किया जाएगा। घोस्ट विलेज अब बनेंगे वाईब्रेंट विलेजक्या है वाईब्रेंट विलेज का सरकारी प्लानसमय समय पर ऐसी खुफिया रिपोर्ट और सेटेलाइट इमेज आती रहती हैं कि चीन ने बॉर्डर एरिया पर अपने इलाके में नए नए गांव बसाए हैं। और चीन इन गांवो का इस्तेमाल बॉर्डर पर निगरानी करने और लोगो पर नज़र रखने के लिए कर सकता है। सूत्रों ने बताया है कि चीन के इस प्लान को जवाब देने के लिए हमारी सुरक्षा एजेंसियों ने भी मेगा प्लान तैयार किया है।

राज्य सरकार की उपलब्धियों/योजनाओं/डेंगू से बचाव" वीडियो विज्ञापन



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here