दुनियाभर में महामारी बन चुके कोरोनावायरस ने अब खेल जगत को भी अपने प्रभाव में लेना शुरु कर दिया है। अंतरराष्ट्रीय स्तर के कुछ खिलाड़ियों के संक्रमित पाए जाने के बाद से लगातार टूर्नामेंटों के रद्द और स्थगित होने का दौर जारी है। वहीं कई टूर्नामेंटों को बंद दरवाजे में करवाने के फैसले लिए गए हैं।
इसी के तहत शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच खेले जा रहे पहले वनडे मैच को बंद दरवाजे के अंदर यानी दर्शकों के बिना आयोजित किया गया । सिडनी में खेले जा रहे मुकाबले में सिर्फ खेल से सम्बंधित अधिकारी और दोनों टीम के खिलाड़ी मौजूद थे।
इतना ही नहीं खाली स्टेडियम में खेले जा रहे मैच में भी खिलाड़ी दिशानिर्देशों का पालन करते हुए कई तरह की सावधानियां बरत रहे थे । मैच में टॉस के दौरान ऑस्ट्रेलियाई कप्तान आरोन फिंच और कीवी कप्तान केन विलियमसन हाथ मिलाने से बचते दिखे। वहीं कीवी खिलाड़ियों ने भी जश्न मनाने के लिए हाथ की जगह पैर मिलाया।
इसके अलावा मैच में ऑस्ट्रेलियाई पारी के 19वें ओवर की पहली गेंद पर आरोन फिंच ने इश सोढ़ी की गेंद पर छक्का लगाया, जो पवेलियन में जाकर गिरा। इसके बाद दर्शकों के ना होने की वजह से फील्डिंग कर रहे कीवी गेंदबाज लॉकी फर्ग्युसन स्टैंड्स के बीच जाकर खुद गेंद लेकर आए।

बता दें कि चीन से फैले खतरनाक कोरोनावायरस लगातार बढ़ता जा रहा है और दुनियाभर के सौ से अधिक देशों में फैल चुका है। डब्लूएचओ द्वारा महामारी घोषित हो चुके कोविड-19 की वजह से अब तक 4000 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं सवा लाख लोग प्रभावित हैं। यही नहीं ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज केन रिचर्डसन पर भी कोरोना के लक्षण पाए गए हैं, जिसकी वजह से उन्हें टीम से दूर कर दिया गया है।
इसी के मद्देनजर दुनियाभर के कई राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं पर इसका प्रभाव पड़ा है। यही कारण है कि अब तक इस मामले में जहां कुछ टूर्नामेंटों को रद्द किया गया है तो कुछ को स्थगित। भारत में होने वाले आईपीएल को भी बंद दरवाजे में करवाने के लिए कहा गया है। साथ ही भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच होने वाले आखिरी दो वनडे भी बंद दरवाजे में ही कराए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here