Home उत्तराखंड उत्तराखंड में इस जगह स्पा के नाम पर चल रहा था सेक्स...

उत्तराखंड में इस जगह स्पा के नाम पर चल रहा था सेक्स रैकेट का धंदा… 9 लड़कियों को छुड़ाया

988
0

उत्तराखंड में नैनीताल जिले के हल्द्वानी शहर में पुलिस व एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल ने देह व्यापार में शीशमहल स्थित जंगल लग्जरी स्पा सेंटर को सील कर दिया है। छापेमारी के दौरान यहां एक युवक और युवती आपत्तिजनक स्थिति में मिले थे। वहीं पुलिस ने बेसमेंट में कैद कर रखी गई नौ लड़कियों को रेस्क्यू किया है, जबकि स्पा मैनेजर समेत दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है। रेस्क्यू की गई युवतियां यूपी, मिजोरम, मणिपुर, पश्चिमी बंगाल और दिल्ली की रहने वाली हैं। स्पा सेंटर चलाने वाली दो महिलाएं फरार हैं, उनकी तलाश जारी है।

उत्तराखंड: कोरोना में अनाथ हुए बच्चों के लिए वात्सल्य योजना शुरू, सीएम धामी बने 2347 बच्चों के मामा

पुलिस के अनुसार शहर में संचालित स्पा सेंटरों में देह व्यापार की लगातार शिकायतें मिल रही थीं। जिस पर लगातार छापेमारी की जा रही है। इसी क्रम में सोमवार को जंगल लग्जरी स्पा सेंटर में छापेमारी की गई। यहां एक युवक और युवती आपत्तिजनक हालत में मिले। पुलिस ने बताया छापेमारी के दौरान लड़कियां स्पा सेंटर के अंदर बेसमेंट के छोटे से हिस्से में जकड़ी मिलीं। स्पा सेंटर के मैनेजर तपस समेत एक अन्य युवक को गिरफ्तार किया गया है। स्पा सेंटर की फरार संचालिकाओं को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। स्पा सेंटर में मिली लड़कियों को वन स्टाप सेंटर भेजा गया है, वहां से काउंसिलिंग कर घर भेजा जाएगा।

उत्तराखंड: महिला SI से भिड़े दिल्ली के रहीसजांदे, हमारी छह करोड़ की कार पर कैसे हाथ लगाया… वर्दी उतरवा दूंगा…

कार्रवाई करने वाली टीम में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल प्रभारी इंस्पेक्टर ललिता पांडेय, नायब तहसलीदार हरीश चन्द्र मौजूद रहे। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार मैनेजर के मोबाइल की जांच की गई तो उसमें लड़कियों की बुकिंग के मैसेज मिले। ग्राहक, मैनेजर को मैसेज करते थे, वह उन्हें फोटो दिखाता था। इसके बाद रेट तय होते थे। 1500 रुपये से मैनेजर लड़कियों की बुकिंग की शुरुआत करता था, इससे ऊपर को दाम लगते थे। बेसमेंट में कैद लड़कियों को ग्राहक के पसंद करने पर ही बाहर निकाला जाता था। अधिकतर लड़कियों को नौकरी के बहाने बुलाकर उनसे देह व्यापार कराया जा रहा था। एक लड़की ने बताया कि संचालिका ने उसे जान से मारने की धमकी दी थी। वह अपने घर जाना चाहती थी, लेकिन उसे कैद कर रखा गया था।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: पहाड़ में डॉक्टरों की लापरवाही ने ली 17 साल की युवती की जान, परिजनों ने लगाए गंभीर आरोप


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here