Home देश माँ और नवजात बच्चे के लिए देवदूत बनी सेना, भारी बर्फबारी में...

माँ और नवजात बच्चे के लिए देवदूत बनी सेना, भारी बर्फबारी में इतने किमी पैदल चलकर पहुंचाया घर

89
0

भारतीय सेना के पराक्रम की खबरों से पूरी दुनिया में चर्चा है। जम्मू-कश्मीर से भारतीय सेना की दरियादिली की एक और खबर आ रही है, जहां देश के वीर जवानों ने एक नवजात शिशु और उसकी मां का रेस्क्यू कराया है। वह भी भारी बर्फबारी में कंधे पर बिठाकर, 6 किमी पैदल चलकर।

घटना कुपवाड़ा जिले की है, जहां एक मां अपने नवजात शिशु के साथ भारी बर्फबारी के बीच एक अस्पताल में फंस गई थी, जिन्हें भारतीय सेना ने 6 किमी तक अपने कंधों पर बिठाकर उनके घर तक पहुंचाया है।

भारतीय सेना के चिनार कोर के ट्विटर हैंडल ने ट्विटर पर जानकारी दी है कि ”भारतीय सेना के जवानों ने दर्दपोरा के रहने वाले फारूक खसाना की पत्नी और नवजात शिशु को भारी बर्फबारी में 6 किलोमीटर पैदल चलकर उनके घर तक सुरक्षित पहुंचाया.”

भारतीय सेना की चिनार कोर द्वारा किए गए इस ट्वीट को आप यहां भी देख सकते हैं। जिसमें देखा जा सकता है कि किस तरह भीषण परिस्थितियों से लड़ते हुए भारतीय सेना के जवान, महिला को कंधे पर ले जाते हुए पैदल चल रहे हैं। जबकि भारी बर्फबारी हो रही है।

फारूक के रिश्तेदार ने भारतीय सेना द्वारा की गई मदद के बारे में आगे कहा है कि ’28RR बटालियन के सेना के अधिकारियों ने उन्हें घर तक पहुंचाने में मदद की. … मदद की. मैं उनका बहुत आभारी हूं।”

READ  सिक्किम: दुःखद खबर...सेना का ट्रक खाई में गिरा...4 जवानों की मौत...2 घायल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here