Home देश कोरोना पर कांग्रेस ने पूछे प्रधानमंत्री मोदी से तीखे सवाल, जिनका जवाब...

कोरोना पर कांग्रेस ने पूछे प्रधानमंत्री मोदी से तीखे सवाल, जिनका जवाब देना होगा भारी

2
0

कोरोना वायरस पिछले कुछ समय से भारत में सबसे ज्यादा तबाही फैला रहा है, जिसके बाद से कांग्रेस सरकार पर हमला करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ रही है। इस बीच कोरोना वायरस संक्रमण के मामले देश में अब 40 लाख के पार हो गए हैं।  सोमवार को कांग्रेस ने कहा कि भारत दुनिया का ‘कोरोना कैपिटल’ बन गया है और इससे कारगर ढंग से निपटने में ‘विफलता’ के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जवाब देना ही चाहिए। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने सरकार से यह सवाल भी किया कि कोरोना पर नियंत्रण कैसे पाया जाएगा और ‘डूबती अर्थव्यवस्था’ को कैसे उबरा जाएगा? उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मोदी जी ने कहा था, ‘‘महाभारत का युद्ध 18 दिन चला था। कोरोना से युद्ध जीतने में 21 दिन लगेंगे।’’ 166 दिन बाद भी समूचे देश में ‘कोरोना महामारी की महाभारत’ छिड़ी है, लोग मर रहे हैं, पर मोदी जी मोर को दाना खिला रहे हैं। कोरोना से युद्ध तो जारी है, पर सेनापति नदारद हैं।’’

यह भी पढ़ें: उत्तराखण्ड: सेकेण्ड हैण्ड स्कूटी लेने गये थे पति पत्नी, दो दिन बाद नदी में मिली दोनों की लांश.. परिवार में कोहराम

कांग्रेस प्रवक्ता ने आगे कहा कि 29 दिन में भारत में कोरोना संक्रमण के मामले 20 लाख से बढ़कर 40 लाख हो गए। विशेषज्ञों के मुताबिक आने वाले दिनों में कोरोना संक्रमण और भी खतरनाक हो सकता है। 30 नवंबर तक कोरोना संक्रमण के मामले एक करोड़ हो सकते हैं। 30 दिसंबर तक कोरोना संक्रमण के मामले बढ़कर 1.40 करोड़ हो सकते हैं। कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या 1,75,000 तक बढ़ने की आशंका और खतरा है। बगैर सोचे, बगैर समझे, बगैर विचार विमर्श के मात्र तीन घंटे के नोटिस पर ही देशभर में लागू किए गए लॉकडाउन से कोरोना महामारी रुकी नहीं, बल्कि इसने देश की अर्थव्यवस्था और लोगों के रोजगार की कमर पूरी तरह से टूट चुकी है। इसका कारण यह प्रधानमंत्री की विफल नेतृत्व है।

यह भी पढ़ें:बॉर्डर पर तैनात उत्तराखंड के जवान ने खुद को मारी गोली, घर में मचा हडकंप

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला नेतृत्व की इस विफलता का मोदी जी जवाब दें। देश को बताएं कि कोरोना पर नियंत्रण कैसे पाया जाएगा? कोरोना संक्रमण की विस्फोटक स्थिति पर कैसे काबू पाएंगे? कोरोना संक्रमण को करोड़ों में जाने से कैसे रोकंगे? कोरोना से हो रही बेतहाशा मौतों पर कैसे नियंत्रण होगा? डूबती अर्थव्यवस्था को कैसे उबारेंगे? क्या कोई हल है या फिर सारा इल्जाम भगवान पर लगा देंगे?’

यह भी पढ़ें: उत्तराखण्ड: नाले के किनारे पड़ी मिली 2 दिन की नवजात बच्ची, कलयुगी माँ फरार… मुकदमा दर्ज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here