Home देश Bhaiya Dooj 2021: आज मनाया जाएगा भाई दूज, राहुकाल में भाई को...

Bhaiya Dooj 2021: आज मनाया जाएगा भाई दूज, राहुकाल में भाई को तिलक करने से बचे…ये है शुभ मुहूर्त

121
0

दीपावली आखिरी त्योहार भैयादूज आज छह नवंबर को बड़े धूमधाम के साथ मनाया जाएगा। मान्यता के अनुसार इस दिन भाई यदि बहन के घर भोजन करता है तो उसे यमराज और उसके दूत का डर नहीं सताता है।

कार्तिक शुक्ल द्वितीया को मनाया जाने वाला भैयादूज का पर्व यमराज और उनकी बहन यमुना से जुड़ा हुआ है। इस दिन यम और शनि की पूजा करने से भी शनि भारी नहीं रहता है, इसलिए इस बार यह पर्व शनिवार को पड़ने से विशेष होगा।

पौराणिक कथा के अनुसार भगवान सूर्य की बेटी यमुना ने भाई यमराज को अपने घर खाने के लिए आमंत्रित किया था। अपनी बहन यमुना के घर आते समय यमराज ने नरक में निवास करने वाले जीवों को मुक्त कर दिया। कार्तिक शुक्ल द्वितीया को यमराज ने यमुना के घर जाकर भोजन किया। इस दौरान यम ने बहन को वर दिया कि जो भी इस दिन यमुना में स्नान करके बहन के घर जाकर प्रसन्नता से भोजन ग्रहण करेगा, उसे और उसकी बहन को यमराज और उनके दूतों का भय नहीं होगा। साथ ही अकाल मृत्यु का डर खत्म होगा और दीर्घायु होगा।

इस दिन बहनें भाई को तिलक लगाकर उनकी आरती उतारती हैं और फिर हथेली में कलावा बांधती हैं। मान्यता है कि जिन महिलाओं के भाई दूर रहते हैं और वह उन तक भैयादूज के दिन नहीं पहुंच पाती। वह इस खास दिन नारियल के गोले को तिलक करके रख लेती हैं और फिर जब उन्हें मौका मिलता है, वह भाई के घर जाकर उन्हें यह गोला भेंट करती हैं।

इस पर्व को राक्षबन्धन की तरह ही शुभ मुहूर्त में मनाया जाता है जबकि राहुकाल में भाई को तिलक करने से बचना चाहिए। भैयादूज की द्वितीय तिथि पांच नवंबर को रात्रि 11 बजकर 14 मिनट से ही शुरू हो गई थी, जो छह नवंबर को शाम 7 बजकर 44 मिनट तक बनी रहेगी। इस दिन भाइयों को तिलक लगाने का शुभ मुहूर्त दोपहर 1 बजकर 10 बजे से लेकर 3 बजकर 21 मिनट तक रहेगा यानी तिलक करने का शुभ मुहूर्त 2 घंटा 11 मिनट तक रहेगा। वहीं अभिजीत मुहूर्त 11 बजकर 20 मिनट से 12 बजकर पांच मिनट तक रहेगा।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here