Home अल्मोड़ा पहाड़: शादी को जा रहे दलित दूल्हे को रोककर जबरन घोड़े से...

पहाड़: शादी को जा रहे दलित दूल्हे को रोककर जबरन घोड़े से उतारा, जांच के आदेश, गांव में तनाव

134
0

उत्तराखंड में अल्मोड़ा जिले के सल्ट तहसील क्षेत्र के ग्राम थला तड़ियाल (मौडाली) में कुछ सवर्णों पर दलित दूल्हे को घोड़े से उतारने की कोशिश करने और बारात रोकने के आरोपों के बीच जिला प्रशासन ने जांच बैठा दी है। जिलाधकारी वंदना सिंह ने बताया कि दूल्हे के पिता की शिकायत पर जांच बैठा दी गई है। अल्मोड़ा जिला मुख्यालय से करीब 150 किमी की दूरी पर सल्ट है। चेतावनी देते हुए सिंह ने बताया कि अगर जांच में आरोप सही पाए गए तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। ग्राम थला तड़ियाल निवासी दर्शन लाल ने एसडीएम गौरव पांडे को दिए ज्ञापन में कहा कि सोमवार को बेटे विक्रम की बारात मजबाखली में गांव के लोगों ने रोक ली।

बरात प्रस्थान के समय कुछ महिलाओं और पुरुषों ने दूल्हे को अनुसूचित जाति का होने के कारण घोड़े से जबरन उतारने की कोशिश की। तहरीर में कहा गया कि आज भी शिक्षित समाज में सवर्ण जाति के लोगों की ओर से जात-पात के नाम पर भेदभावपूर्ण और अमानवीय व्यवहार किया जाता है। एसडीएम गौरव पांडे ने बताया कि चूंकि गांव राजस्व विभाग के अधीन आता है, इसलिए नायब तहसीलदार को मामले की जांच के लिए भेजा गया है।

अनुसूचित जाति के दूल्हे को घोड़े से उतारने की कोशिश का मामला प्रकाश में आते ही प्रशासन हरकत में आ गया है। दोनों पक्षों में उपजे विवाद से आसपास के क्षेत्र में भी तनाव बना हुआ है। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए राजस्व टीम गांव में डेरा डाले हुए है और पल-पल की जानकारी प्रशासन को दे रही है। प्रशासन दोनों पक्षों को शांत करने में जुटा हुआ है, ताकि कोई बड़ा विवाद खड़ा न हो। एसडीएम गौरव का कहना है कि गांव में स्थिति सामान्य है और दोनों पक्षों से वार्ता की जा रही है।

राज्य सरकार की उपलब्धियों/योजनाओं/डेंगू से बचाव" वीडियो विज्ञापन



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here