Home उत्तराखंड तिलवाड़ा में हुई चोरी का हुआ पर्दाफाश, लोकल व्यक्ति ही था आरोपी

तिलवाड़ा में हुई चोरी का हुआ पर्दाफाश, लोकल व्यक्ति ही था आरोपी

233
0

आजकल वेसे भी सर्दियों के दिन चल रहे हैं, और इस कडाके की ठण्ड में पहाड़ो में वेसे भी अँधेरा जल्दी हो जाता है और आमतोर पर शाम 6 बजे तक ही बाजार बंद हो जाते हैं और लगभग 7 या 7.30 बजे तक लोग अपना खाना पीना खाकर सो जाते हैं। इन्ही सब बातों का फ़ायदा एक स्थानीय निवासी ने उठाया| बात 19 दिसंबर की है रात का समय था और तिलवाड़ा बाजार में उनियाल मोबाइल रिपेयरिंग सेंटर व बिष्ट फैंसी दुकानों की छत तोड़कर एक व्यक्ति अन्दर घुसा और दुकान में मौजूद मोबाइल फोन, नोटो की मालाएं व नकदी पे हाथ साफ़ करके गायब हो गया। जब अगले दिन ये दुकानदार अपनी दुकान पर पहुंचे तो ये सारा माजरा देख कर उनके होश उड़ गये। और उन्होंने इसकी सूचना तुरंत नजदीकी पुलिस थाना अगस्त्यमुनि में दी। और पुलिस ने अज्ञात चोरों के ऊपर मुकादमा दर्ज कर दिया था।

और अब थाना अगस्त्यमुनि की पुलिस इलाके में सक्रियता बड़ा दी थी| और जैसे ही आरोपी ने दुबारा चोरी का प्रयास किया पुलिस ने उसे रँगे हाथों पकड़ लिया। पुलिस उपाघीक्षक अभय कुमार ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि आरोपी की पहचान मनेन्द्र सिंह गुसाई पुत्र स्व0 उम्मेद सिंह गुसाई ग्राम बावई, हाल चाका फलाटी जिला रुद्रप्रयाग के रूप में हुई है। और पूछताछ में आरोपी ने बताया गया कि उस पर बैंक का भारी कर्जा था वह पिछले महीने ही घर छोड़ चुका था, और इसी सब कर्जे से उबरने के लिए उसने चोरी की घटना को अंजाम दिया। दूसरी तरफ उसके परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट अगस्त्यमुनि थाने में पहले से ही दर्ज करा रखी थी। पुलिस ने चोरी करने के प्रयोग में होने वाल हथोड़े, टार्च, हैक्सा मय ब्लैड समेत अन्य सामग्री के साथ आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। और चोरी की धाराओं के तहत उसे जेल भेज दिया गया है। वैसे ये एक चिंता का विषय है उत्तरखंड जिसे देवभूमी भी कहा जाता है, उसके पहाड़ी इलाकों में इस तरह की शातिर घटनायें सामने आ रही हैं और वो भी तब जब आरोपी भी खुद स्थानीय निवासी है।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here