Home उत्तराखंड आरटीओ में दिव्यांगजनों को सीढ़ियों के झंझट से मिलेगी मुक्ति, लिफ्ट लगाने...

आरटीओ में दिव्यांगजनों को सीढ़ियों के झंझट से मिलेगी मुक्ति, लिफ्ट लगाने के साथ ही बनाए जाएंगे रैंप

5
0
Metallic elevator two gate closed of passenger lift at lobby

संभागीय परिवहन कार्यालय में ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के साथ ही गाड़ियों का पंजीकरण, टैक्स जमा कराने या फिर ड्राइविंग लाइसेंस का नवीनीकरण कराने आ रहे लोगों खासकर दिव्यांग लोगों को अब पहली मंजिल पर आने जाने के लिए सीढ़ियों के झंझट से मुक्ति मिलेगी। यहां पर कार्यालय में लिफ्ट लगाने के साथ ही रैंप की व्यवस्था की जा रही है।

पीडब्ल्यूडी के प्रस्ताव को आरटीओ डीसी पठोई की ओर से शासन को भी भेज दिया गया है। राज्य सरकार ने ऐसे सरकारी विभागों जहां आम लोगों की आवाजाही ज्यादा रहती है, वहां दिव्यांगों की असुविधाओं को देखते हुए लिफ्ट लगाने के साथ ही रैंप बनाने का आदेश दिए हैं। जिन सरकारी विभागों को चयनित किया गया, उसमें संभागीय परिवहन कार्यालय को भी शामिल किया गया है।

परिवहन विभाग की पहल पर पीडब्ल्यूडी की ओर से आरटीओ में लिफ्ट लगाने और रैंप बनाने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। आरटीओ डीसी पठोई ने बताया कि 33.35 लाख रुपये की लागत से दफ्तर में लिफ्ट लगाने के साथ ही रैंप बनाया जाएगा। निर्माण कार्य पूरा होने के बाद दिव्यांगों के साथ आम लोगों को भी पहली मंजिल पर आने जाने में सहूलियतें होंगी।

फिलहाल आरटीओ में लिफ्ट और रैंप की व्यवस्था न होने से दिव्यांगों को आने जाने में तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कोरोना संकट के साथ ही पिछले दो साल से आरटीओ में कम संख्या में आवेदकों को लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस जारी किए जा रहे हैं। लाइसेंस बनवाने के लिए लोगों को कई माह का इंतजार करना पड़ रहा है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here