EntertainmentUttarakhand

फिल्म ‘केदारनाथ’ पर लगे लव जेहाद के आरोपों पर अभिनेत्री सारा अली ने दिया ये बड़ा बयान

66views

इन दिनों बॉलीवुड में जिस फिल्म की सबसे अधिक चर्चा है वो है 7 दिसम्बर को रिलीज होने वाले फिल्म केदारनाथ की, जिस फिल्म में सुशांत सिंह राजपूत के साथ सैफ अली खान और अमृता सिंह की बेटी सारा अली खान अपना बॉलीवुड डेब्यू करने जा रही हैं। इस फिल्म की अधिकाँश शूटिंग रुद्रप्रयाग जिले में स्थित 12 ज्योतिर्लिंग में से एक केदारनाथ में की गयी है और ये फिल्म मुख्यतया 2013 में आयी भयानक आपदा पर केन्द्रित है। पर जबसे फिल्म का ट्रेलर रिलीज हुआ है तबसे इस फिल्म को लेकर लगातार विवाद बढता जा रहा है और इसका मुख्य कारण यह है कि फिल्म में जहाँ सुशांत सिंह राजपूत मुस्लिम युवक की भूमिका में पिट्ठू का किरदार निभा रहे हैं तो वहीँ सारा अली खान एक हिन्दू तीर्थयात्री बनी हुई हैं।

फिल्म में दोनों के बीच प्यार पनपता है और किसिंग सीन भी केदारनाथ में फिल्माये गये हैं जिसके बाद से पूरी केदारघाटी से लेकर उत्तराखंड और देशभर में लोग इसका विरोध कर रहे हैं। जिसके बाद उत्तराखंड के कुछ नेताओं और केदारनाथ के तीर्थपुरोहितों ने कहा है कि फिल्म हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाती है और लव जिहाद को बढ़ावा देती है। इसके अलावा सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी को चिट्ठी लिखी कि यह फिल्म हिंदुओं की भावनाओं का मजाक बनाती है और इसे बेन किया जाय। इसके अलावा लोग सोशल मीडिया पर भी इस फिल्म के खिलाफ लगातार कैम्पेन चला रहे हैं।

इन दिनों  सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान फिल्म के प्रमोशन में व्यस्त हैं इसी दौरान सारा अली खान ने लव जेहाद पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि ये इस तरह की फिल्म नहीं है। फिल्म में केदारनाथ की दुनिया, जितनी मुक्कू (सारा अली खान) की है, उतनी ही मंसूर (सुशांत) की भी है। मुझे इस तरह से बांटने की नीति समझ नहीं आती है दुनियाभर में नस्लवाद और लिंगभेद है, ये मुझे समझ नहीं आता है। मेरे सोचने का तरीका अलग है वो मेरी एजुकेशन और जिंदगी के अनुभवों से मुझे मिला है। इस तरह की कोई चीज मुझे प्रभावित नहीं करती हमारी फिल्म लव जिहाद की मानसिकता को बिल्कुल भी नहीं दिखाती है केदारनाथ दुनिया को देखने का एक अलग नजरिया दिखाती है।

Leave a Response